Breaking News-

बैतूल :- युवा नेतृत्व एवं सामुदायिक विकास शिविर का समापन-बैतूल :- पुलिस भर्ती परीक्षा के अंतर्गत लोहिया वार्ड बैतूल निवासी महेन्द्र सिंह उइके का चयन हुआ है-बैतूल :- आदिवासी छात्र संगठन द्वारा आदिवासी मिलन समारोह 26 फरवरी, रविवार को-बैतूल :- श्री संकट मोचन हनुमान मंदिर समिति, चुन्नीढ़ाना गंज बैतूल के तत्वावधान में प्रतिदिन 8 बजे से चल रही रामलीला में राम विवाह संपन्न हुआ-बैतूल :- जेएच कॉलेज में एम कॉम में 79 प्रतिशत प्राप्त कर जिले में वाणिज्य संकाय में प्रथम स्थान प्राप्त किया है-बैतूल :- मप्र कांग्रेस कमेटी झुग्गी झोपड़ी प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष ईश्वर सिंह चौहान द्वारा-बैतूल :- कुपोषण मुक्त मध्यप्रदेश बनाने के लिये राज्य सरकार द्वारा किये जा रहे प्रयास को समाज का सहयोग ही नही मिला है-संत हिरदाराम नगर :- सागर कालेज में शिक्षक सम्मान समारोह को लेकर पत्रकार वर्ता का आयोजन-संत हिरदाराम नगर :- निरंकारी अनुयाईयों ने सफाई अभियान चलाकर मनाया -गुरू पूजा दिवस-संत हिरदाराम नगर :- क्राईस्ट स्कूल में परीक्षा तैयारी कार्यक्रम का आयोजन

बैरागढ़ :- बॉलीवुड के अभिनेता ओम पुरी का आज सुबह अचानक हार्ट अटैक आने से निधन हो गया है।

Sharing is caring!

BAIRAGARH:-AJAY CHOUKSEY M.9893323269

 भोपाल :- बॉलीवुड के अभिनेता ओम पुरी का आज सुबह अचानक हार्ट अटैक आने से निधन हो गया है। om-puri-580x395मशहूर और जाने-माने अपने स्वभाव में कड़क ओम पुरी 66 साल के थे। आज सुबह ओम पुरी ने अंतिम सांस ली। पूरे बॉलीवुड ने उनकी मौत पर शोक जताया हैं और ट्वीट कर उनको श्रंध्दांजलि दी हैं।ओमपुरी न सिर्फ बॉलीवुड सिनेमा, बल्कि पाकिस्तानी, ब्रिटिश और हॉलिवुड फिल्मों में भी अपनी बेमिसाल अदाकारी के लिए जाने जाते थे। उन्हें भारत सरकार द्वारा पद्मश्री की उपाधि दी गई और उन्होंने ‘आरोहण’ और ‘अर्धसत्य’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का राष्ट्रीय पुरस्कार भी हासिल किया था।आपको बता दें की बेहतर कलाकारी के धनी थे ओम पुरी। ओम पुरी हिंदी फिल्मों के एक प्रसिद्ध अभिनेता थे, जिनका जन्म 18 अक्टूबर 1950 में हरियाणा के अंबाला शहर में हुआ। ओम पुरी ने बॉलीवुड के अलावा अंग्रेजी फिल्मों  में भी योगदान दिया है।साल 1976 में पुणे फिल्म संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद ओमपुरी ने लगभग डेढ़ वर्ष तक एक स्टूडियो में अभिनय की शिक्षा दी। बाद में ओमपुरी ने अपने निजी थिएटर ग्रुप ‘मजमा’ की स्थापना की। ओम पुरी ने अपने फिल्मीु सफर की शुरुआत मराठी नाटक पर आधारित फिल्म ‘घासीराम कोतवाल’ से की थी।

वर्ष 1980 में रिलीज फिल्म ‘आक्रोश’ ओम पुरी के सिने करियर की पहली हिट फिल्म साबित हुई। उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए बॉलीवुड के कई कलाकारों ने कहा कि बॉलीवुड के लिए यह एक ऐसी क्षति है जिसे पूरा नहीं किया जा सकता है। ओम पुरी की सबसे बड़ी खासियत यह थी कि वे हर तरह के किरदार निभाने में सक्षम थे। 1990 में उन्हेंभ पद्ममश्री सम्मा न से सम्मा नित किया गया था।1993 में ओम पुरी ने नंदिता पुरी से शादी की थी। हालांकि यह जोड़ा 2013 में अलग हो गया था। उनका एक बेटा इशान है। उन्होंने ब्रिटेन और अमेरिका में प्रोड्यूस हुई कई फिल्मों में काम किया है।